''Wel-Come''

अयोध्या विवाद :28 सितम्बर 2010 -28 तथ्य ------

0
  • Friday, October 1, 2010
  • विजयपाल कुरडिया
  • लेबल:
  • 1.मीर बाँकी द्वारा अयोध्या में बाबरी मस्जिद का निर्माण 1528 में किया
    2. कुछ लोगों ने 22-23DEC.1949 को   बाबरी मस्जिद के भीतर रामलला की मूर्ति स्थापित की।
    3 . गोपालसिंह विशारद द्वारा सिविल जज की अदालत में 16JAN.1950 को  मुकदमा।
    4. रामचंद्र दास परमहंस ने जन्मभूमि मुक्ति के लिए अदालत में 5DEC.1950 को  मुकदमा दायर किया।
    5. निर्मोही अखाड़ा द्वारा विवादित संपत्ति की देखरेख के लिए रिसीवर की नियुक्ति रद्‌द कर मंदिर का कब्जा अखाडे़ को देने के लिए 1959 मुकदमा दर्ज किया।
    6. सुन्नी सेंट्रल वक्फ बोर्ड ने18DEC.1961 हकदारी मुकदमा दायर कर माँग की कि विवादित ढाँचे से मूर्तियाँ हटाई जाएँ।
    7.इसी बीच बंबई में सांदीपनी आश्रम में 1964विश्व हिंदू परिषद की स्थापना।
    8.27-28MAY1989 को हरिद्वार में 11 प्रांतों के साधुओं की बैठक, विहिप ने विवादित स्थल पर मंदिर बनाने के लिए 25 करोड़ रुपए एकत्र करने की घोषणा की।
    9.अयोध्या में मंदिर निर्माण के लिए 31AUGUST1990 को  पत्थरों की तराशी शुरू।
    10.अयोध्या पहुँचने से कारसेवकों को रोकने के लिए  22OCT.1990 सरकारी  ने प्रयास तेज किये । उ.प्र. सरकार ने रेलगाड़ियों व बसों की तलाशी लेकर कारसेवकों को उतारा और गिरफ्तार किया।लेकिन  अशोक सिंघल गोपनीय तरीके से अयोध्या पहुँचे।
    12.विवादित ढाँचे पर कारसेवकों ने 30OCT.1990 को  भगवा ध्वज फहराया।
    13 . उ.प्र. सरकार के पर्यटन विभाग ने 7-10OCT.1991 को विवादित स्थल से लगी 2.77 एकड़ जमीन का अधिग्रहण किया। इस भूमि पर बने कई पुराने मंदिर ध्वस्त। सुन्नी वक्फ बोर्ड ने अदालत में चुनौती दी। अदालत ने स्थायी निर्माण न करने और जमीन का मालिकाना हक न बदलने का आदेश दिया। 


    14 .1988-1989 में अधिग्रहीत 42 एकड़ भूमि उप्र सरकार ने 4MARCH1992 को  राम जन्मभूमि न्यास को रामकथा पार्क निर्माण के लिए प्रदान की। 




    16.6DEC.1992 : कारसेवकों ने 5 घंटे 45 मिलट में बाबरी मस्जिद ध्वस्त की। अयोध्या में इस दिन करीब तीन लाख कारसेवक जमा थे।
    17. कारसेवा दिन भर चलती रही। पाकिस्तान और बंगलादेश में 7DEC.1992 को कई मंदिर तोडे़ गए और देश में सांप्रदायिक उन्माद फैला। लालकृष्ण आडवाणी ने नैतिकता के आधार पर लोकसभा में विपक्ष के नेता पद से त्यागपत्र दिया। 
    18.लालकृष्ण आडवाणी, मुरली मनोहर जोशी, अशोक सिंघल, उमा भारती, विनय कटियार और विष्णु हरि डालमिया समेत कई नेता8DEC.1992 को  गिरफ्तार।  
    19.आरएसएस, विश्व हिन्दू परिषद, बजरंग दल, जमायते इस्लामी तथा इस्लामी सेवक संघ पर केंद्र सरकार ने 10DEC.1992 को प्रतिबंध लगाने की घोषणा की।  
    20.16 DEC.1992 को राजस्थान, मध्यप्रदेश तथा हिमाचल की भाजपा सरकारें बर्खास्त। 
    21.मंदिर निर्माण के लिए पत्थर तराशने के लिए25OCT.1998 को  कार्यशाला खोली।
    22.जस्टिस (सेवानिवृत्त) मनमोहनसिंह लिब्रहान ने30JUNE2009 को  प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहनसिंह तथा केंद्रीय गृहमंत्री पी. चिंदाबरम को 900 पेज की अयोध्या की जाँच रिपोर्ट सौंपी। आयोग ने 399 बार सुनवाई की, उसका 48 बार विस्तार हुआ आठ करोड रुपए से अधिक की राशि खर्च हुई। रिपोर्ट देने में 16 साल 7 माह लगा। 
    23.JULY2010 को रामजन्मभूमि और बाबरी मस्जिद विवाद पर सुनवाई पूरी। 
    24.24SEP.2010 को 4 मुकदमो पर फैसला आना तय हुवा ।  
         १.विवादित ढाँचे का मालिक कोन ?
          २.क्या विवादित स्थल ही राम की जन्मभूमि है ?
           ३.क्या  1528 में मंदिर   को तोड़कर  मस्जिद का निर्माण किया गया ?
            ४.अगर हाँ,  तो  क्या यह  सरिया   के  खिलाफ  है ?
     25.लेकिन सुप्रीम कोर्ट ने28DES.2010 तक रोक लगा दी ..
     26.सरकार ने अदालत के फैसले से जुड़ी अफवाह फैलाने या भड़काऊ संदेश प्रसारित करने वालों पर नजर रखते हुए बल्‍क एसएमएस और एमएमएस पर लगी पाबंदी 30 सितम्‍बर तक बढ़ा दी हे ,उत्‍तर प्रदेश में राज्‍य पुलिस के एक लाख 60 हजार और  केंद्रीय सुरक्षा बल के 10 हजार जवान विभिन्‍न संवेदनशील स्‍थानों पर तैनात किए गए है।
     27..28DES.2010 को  इलाहाबाद हाईकोर्ट की लखनऊ बेंच ने फैसला सुनाया..
     (अ)विवादित स्थल को तीन हिस्सों में बांटा जायगा .सुन्नी वक्फ बोर्ड, निर्मोही अखाड़ा और रामलला के पक्षकारों के बीच बंटेगी।

    (ब)जहां रामलला की मूर्ति स्थापित है, वह जमीन हिंदुओं की है। वहां से रामलला की मूर्ति को हटाया नहीं जाएगा। 
    (स)बेंच ने तीन महीने यथास्थिति बनाए रखने का आदेश दिया है।
    (द)बेंच ने दो-एक के बहुमत से वक्फ बोर्ड के दावे को खारिज कर दिया। जस्टिस शर्मा और जस्टिस अग्रवाल ने वक्फ बोर्ड के दावे के खिलाफ व्यवस्था दी, जबकि जस्टिस खान ने वक्फ बोर्ड के पक्ष में फैसला दिया।
    (य)मूर्ति का क्या होगा?
    जस्टिस धर्मवीर शर्मा- मूर्ति बनी रहेगी।
    जस्टिस एस अग्रवाल- बनी रहेगी मूर्ति।
    जस्टिस एसयू खान- जहां है वहीं रहेगी। 
    फैसला : तीनों ने कहा- बनी रहेगी मूर्ति। 
    (र)विवादित स्थल राम जन्मभूमि है
    जस्टिस शर्मा- विवादित स्थल ही जन्मभूमि
    जस्टिस अग्रवाल- मान्यता है, यह राम जन्मभूमि है
    जस्टिस खान- मान्यता तो है। पर कहां है, पता नही
    फैसला : तीनों ने माना- विवादित स्थल राम जन्मभूमि
    (ल)विवादित जमीन किसकी
    जस्टिस शर्मा- पूरी जमीन रामलला को मिले
    जस्टिस अग्रवाल- वक्फ बोर्ड को एक तिहाई से कम न मिले
    जस्टिस खान- तीनों पक्षों को एक तिहाई मिले
    फैसला : तीनों पक्षों को एक तिहाई मिले।
      
    28.अब क्या होगा ?
         अब सुप्रीम कोर्ट में होगा अयोध्‍या की विवादित जमीन पर फैसला  क्योकि  सुन्नी वक्फ बोर्ड ने सुप्रीम कोर्ट जाने का फैसला किया है। रामजन्मभूमि न्यास ने भी कहा है कि वक्फ बोर्ड को एक तिहाई जमीन दिए जाने के खिलाफ वह भी सुप्रीम कोर्ट जाएगा।

    0 Comment Here:

    Post a Comment

    subscribe

     
    Copyright 2010 Vijay Pal Kurdiya